उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन | UP Marriage Certificate 2021 Form PDF

0

[Apply Online] UP Marriage Certificate Registration In Hindi | Aadhaar Based Marriage Registration Uttar Pradesh | यूपी मैरिज सर्टिफिकेट रजिस्ट्रेशन 2020

UP Marriage Certificate Registration: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए यूपी विवाह पंजीकरण की सम्पूर्ण जानकारी लेकर आये है। उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी के नागरिकों के लिए एक नया नियम शुरू किया है।जिसमे हर नागरिक के लिए विवाह का पंजीकरण होना अनिवार्य हे। इस नियम के अंतर्गत, यूपी के नागरिक कई सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।पंजीकरण शुल्क अलग-अलग धर्म और जाति के अनुसार निर्धारित होते हैं। मुसलमानों को भी अपना निकाह दर्ज करना होगा। यदि आप 1 साल के भीतर शादी के लिए पंजीकरण नहीं करते हैं। तो आपको 10 रुपये जुर्माना देना होगा और 1 साल के बाद आपको 50 रुपये का भुगतान करना होगा और हर साल रुपये बढ़ते जाएंगे।

Marriage registration form Uttar Pradesh PDF
Marriage registration form Uttar Pradesh PDF

देश में, सभी जाति व धर्म के लोगो को अपनी शादी के पंजीकरण की आवश्यकता होती है। अब उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने राज्य में सभी विवाहितो के लिए अनिवार्य पंजीकरण के माध्यम से दूसरे राज्य की तरह एक नई शुरुआत की है। विवाह पंजीकरण का अधिकार शहरी क्षेत्रों और ग्रामीण क्षेत्रों में निकायों को ग्राम पंचायत को दिया जायेगा।

यूपी विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण अधिनियम  

UP Marriage Certificate Registration Act

हाल में ही सर्वोच्च न्यायालय ने आदेश दिया था कि सभी विवाहों को पंजीकृत किया जाना चाहिए। ताकि बाल विवाह, व एक से अधिक विवाह करना रुक जाए और महिलाओं के अधिकार को सुरक्षित रखने में सहयता मिले।विवाह पंजीकरण देश के कई राज्यों में लागू होने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया। अब यूपी में, सभी नागरिकों के लिए यह एक अनिवार्य दस्तावेज है। विवाह के बाद पंजीकरण को विवाहित जोड़ों को एक आवेदन प्रस्तुत करना होगा।

इसमें कुछ मुख्य कारण निम्न प्रकार है।

  • राज्य में बाल विवाह को रोकने के लिए।
  • यह विधवा को अपने हक के लिए दावा करने में सक्षम करेगा।
  • महिलाओं के अधिकार को ध्यान में रखा जाएगा।
  • एक से अधिक विवाह पर जाँच रखने के लिए।
  • साथ ही महिलाओं को हिंसा से बचाना भी इसका एक लाभ है।

हिंदू विवाह पंजीकरण अधिनियम 1973 

Hindu Marriage Registration Act, 1973

विवाहित जोड़े को गवाहों को पेश करना होगा जो इस बात की गवाही दे सकें कि उन्होंने शादी देखी है। उत्तर प्रदेश में ग्राम पंचायत और या स्थानीय प्राधिकारी द्वारा जारी विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र भी मान्य है। ऑनलाइन सिस्टम में निकाय भी हैं ताकि जरूरत पड़ने पर इसे तुरंत सक्षम अधिकारी के सामने पेश किया जा सके। उत्तर प्रदेश में विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण के लिए एक मामूली सा शुल्क होगा। मुख्य सचिव का निर्णय इस मामले में अंतिम होगा।भारत सरकार ने प्रत्येक राज्य के लिए विवाह का पंजीकरण अनिवार्य कर दिया है। राज्यों को विवाह को पंजीकरण अनिवार्य करके नियम बनाने होंगे।

यूपी हिंदू विवाह पंजीकरण (UP Hindu Marriage Certificate Registration) के सरकारी नियमों के अनुसार, निम्नलिखित उल्लिखित शर्तों को दुल्हा और दुल्हन दोनों द्वारा पूरा किया जाना चाहिए।

  1. शादी की रस्मों के लिए हिंदू रीति-रिवाज निभाने चाहिए।
  2. आवेदन करने वाले या हिंदू विवाह अधिनियम के तहत दूल्हा और दुल्हन हिंदू होने चाहिए।
  3. वर की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए और वधु के विवाह के समय 18 वर्ष होनी चाहिए।
  4. विवाह का स्थान दूल्हे का निवास, वधू का निवास स्थान या विवाह समारोह की जगह के रजिस्ट्रार कार्यालय क्षेत्र के अंतर्गत होना चाहिए।

UP Marriage Certificate के आवश्यक दस्तावेज-

Required Documents for UP Marriage Certificate Registration :- यदि आपकी हाल ही में शादी हुई है या होने वाली है। तो आपको यूपी विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण से पहले पहले कुछ दस्तावेजों का प्रबंध करना होगा। आपको निम्नलिखित सभी दस्तावेज आवेदन पत्र के साथ संलग्न करने होंगें।

  • पति और पत्नी दोनों के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • दोनों के (पति और पत्नी) मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ा जाना चाहिए।
  • वर तथा वधू दोनों में से एक भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • पते का प्रमाण जैसे – वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड।
  • आयु प्रमाण – जन्म प्रमाण पत्र, 10 वीं कक्षा की अंकतालिका।
  • नवीनतम पासपोर्ट आकार का फोटो।
  • एक विवाह की तस्वीर (पति / पत्नी दोनों की साथ में)।
  • सभी दस्तावेजों को स्व-सत्यापित होना चाहिए।
  • विवाह का कार्ड (पति / पत्नी दोनों के लिए)।

विवाह पंजीकरण के लाभ

Benefits of Marriage Registration:

यदि आप अपनी शादी को रजिस्टर करते हैं तो आप भविष्य में कई सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। इसके कुछ मुख्य लाभ नीचे दिए गए है।

  1. यदि आप पासपोर्ट या बैंक खाते के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अपना विवाह प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।
  2. ऐसे कई देश हैं जहां पारंपरिक विवाह को वैध नहीं माना जाता है। तो इन देशो में विवाह प्रमाण पत्र आवश्यक होता है।
  3. इसके प्रयोग कर सभी तरह की धनराशि जैसे बीमा पॉलिसी को नामांकन किया जा सकता है। बैंक या बीमा की दावा राशि प्राप्त करने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट भी आवश्यक है।
  4. विवाह प्रमाण पत्र महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करता है तथा कानूनी रूप से न्याय दिलाने के लिए वैद्य दस्तावेज के रूप में कार्य करता है।

उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण शुल्क

UP Marriage Certificate Registration Fee 

अगर आप यूपी मैरिज सर्टिफिकेट (UP Marriage Certificate Registration) के लिए आवेदन करना चाहते हैं। तो यूपी मैरिज सर्टिफिकेट के लिए लागू शुल्क देना होगा। जो निम्न प्रकार है:

  • विवाह करने के एक महीने के भीतर विवाह पंजीकरण कराने में – 10 रुपये
  • एक महीने के बाद विवाह पंजीकरण कराने में – 20 रुपये

नोट – एक वर्ष के बाद विलंबित पंजीकरण शुल्क में 10 रुपये से वृद्धि होगी। उसके बाद विलंबित पंजीकरण के लिए 50 रुपये जुर्माने के रूप में देना होगा।

उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन पंजीकरण 

UP Marriage Certificate Online Registration:

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, लिंक नीचे दिया गया है।

UP-MARRIAGE-CERTIFICATE-REGISTRATION-PORTAL

  1. इसके बाद आपको अपने बाएं हाथ पर “आवेदन करें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  2. फिर आगे की प्रक्रिया के लिए “आवेदन विवाह पंजीकरण” पर क्लिक करें।
  3. अब यदि आप पहली बार आवेदन कर रहे हैं तो आपको “ नवीन आवेदन फार्म भरें” या यदि आप पहले से पंजीकृत सदस्य हैं तो आपको अपने पंजीकरण नंबर और पासवर्ड के साथ लॉग इन करना होगा।
  4. अब आपको इस आवेदन पत्र पर पूछी गई सभी जानकारी सही ढंग से भरनी होंगी। सभी आवेदकों को सही और सत्य जानकारी आवेदन पत्र पर भरनी होगी। यदि विभाग द्वारा किसी भी जानकारी में गलती पाई जाती है। तो आपका आवेदन पत्र रद्द किया जा सकता है। जैसे –
पति का नाम हिंदी या अंग्रेजी में पिता का नाम दर्ज करें / अभिभावक का विवरण दर्ज करें
माँ का नाम दर्ज करें ड्रॉप-डाउन मेनू से विवाह समय   जन्म् की तारीख़ दर्ज करें
ई-मेल आईडी दर्ज करें राष्ट्रीयता दर्ज करें आयु दर्ज करें
मोबाइल नंबर दर्ज करें पता विवरण दर्ज करें जिले का चयन करें
तहसील में प्रवेश करें अपना पूरा पता दर्ज करें पिनकोड दर्ज करें

अब आपको पत्नी का सारा विवरण भरना है और आपको अपनी तस्वीर भी अपलोड करनी है और फिर “Save” बटन पर क्लिक करना है। अब अपना विवाह पंजीकरण कार्यालय चुनें और फिर अपना फॉर्म जमा करें। लॉग-इन आईडी और पासवर्ड फॉर्म जमा करने के बाद आपको प्रदान किया जायेगा। आप अपने खाते में लॉगिन करके अपना पंजीकरण विवरण ऑनलाइन देख सकते हैं।

उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र डाउनलोड आवेदन पत्र 

Download Application Form For UP Marriage Certificate Registration:

विवाह प्रमाण पत्र फार्म PDF UP आवेदन पत्र प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे।

Download-UP-Marriage-Certificate-Application-Form-PDF

उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण सत्यापन 

UP Marriage Certificate Registration Verification:

  • विवाह पंजीकरण सत्यापन यूपी की प्रक्रिया के लिए आपको नीचे दिए लिंक पर जाना होगा।

UP-MARRIAGE-REGISTRATION-CERTIFICATE-VERIFICATION

  • इस पर जाने के बाद आधार विवाह पंजीकरण सत्यापन पर क्लिक करें।
  • अब पोर्टल पर दी गई जगह में आवश्यक विवरण दर्ज करें। आपको विवाह पंजीकरण सत्यापन यूपी का विवरण मिल जायेगा।

उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र डाउनलोड करें 

Download UP Marriage Certificate Online:

  • इसके लिए आपको नीचे दिए गए पंजीकरण पोर्टल के लिंक का उपयोग करके इस पर लॉग इन करना होगा।

DOWNLOAD-UP-MARRIAGE-CERTIFICATE

  • इस पेज पर आपको निम्नलिखित जानकारियां भरनी होंगी।
  1. सबसे पहले आप आवेदन संख्या दर्ज करें।
  2. उसके बाद पासवर्ड दर्ज करे।
  3. फिर कैप्चा कोड दर्ज करें।
  4. अंत में साइन इन ऑप्शन पर क्लिक करें।
  5. इसके बाद आप मैरिज सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकेंगे।

यूपी मैरिज सर्टिफिकेट संपर्क जानकारी 

UP Marriage Certificate Contact Detaisl:

  • यूपी मैरिज सर्टिफिकेट के लिए मदद के संबंध में विभाग का संपर्क विवरण जानने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे।

CONTACT-INFORMATION

New Update => “कोविड-19 के दृष्टिगत समस्त लेखपत्रों के पंजीकरण की कार्यवाही तिथि व समय (Appointment) का चयन एवं निबन्धन शुल्क (Registration Fees) के ऑनलाइन भुगतान के बाद की जा सकती है। पूर्ण जानकारी के लिए ==> यहां क्लिक करें

दोस्तों,आपको हमारे द्वारा दी गयी उतर प्रदेश विवाह पंजीकरण (UP Marriage Certificate Registration) की जानकारी केसी लगी। यदि आप इससे जुडी कोई अन्य जानकारी या सवाल पूछना चाहते हो तो आप हमे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हो। अधिक अपडेट्स के लिए हमारे पेज www.hindiyojanaup.com के साथ बने रहे। धन्यवाद-

Leave A Reply

Your email address will not be published.