उत्तर प्रदेश भरण पोषण भत्ता योजना आवेदन फार्म | UP bharan poshan yojana 2021

UP Shramik Bharan Poshan Yojana In Hindi | Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana | Majdur Bhatta Yojana Online Apply | योगी भरण-पोषण अनुदान योजना

UP bharan poshan yojana 2021 Online Apply– यूपी सरकार ने अपने राज्य के सभी निराश्रित श्रमिकों को मजदूर भरण पोषण भत्ता (कोरोना सहायता भत्ता) देने की योजना शुरू की है। यह मजदूर भत्ता योजना दो चरणों में शुरू की गयी थी। पहले चरण में उन मजदूरों को लिया गया जो मनरेगा जॉब कार्ड के अंतर्गत आते हैं,सामजिक पेंशन वाले लोग और जिनका नाम श्रमिक कार्ड के अंतर्गत नाम पंजीकरण है। और दूसरे चरण में उन सभी छूटे हुए मजदूरों को लिया गया है, निर्माण क्षेत्र श्रमिकों, दिहाड़ी मजदूरों (टैक्सी-ऑटो चालक, रिक्शा चालक, रेहड़ी वाले, फेरी वाले, ठेला-खोमचा, रेहड़ी वालों, रिक्शा, ई-रिक्शा चालक, पल्लेदार, रेलवे कुली, दिहाड़ी मजदूरों तथा छूटे हुये निराश्रित लोगों को योगी सरकार 1000 -1000 रुपए की भरण पोषण सहयता करेगी।

 UP-Shramik-Bharan-Poshn-Yojana-In-Hindi
UP-Shramik-Bharan-Poshn-Yojana-In-Hindi

उत्तर प्रदेश सरकार ने COVID-19 लॉकडाउन अवधि के लिए रखरखाव भत्ते के रूप में सड़क के विक्रेताओं और रिक्शा चालकों सहित 4,81,755 दैनिक ग्रामीणों के बैंक खातों में प्रत्येक को 1,000 रुपये हस्तांतरित किए।एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, इस राहत उपाय के लाभार्थियों की पहचान राज्य के शहरी विकास विभाग द्वारा की गई है।

यूपी कोरोना सहायता भत्ता 2020

UP Corona Assistance Allowance 2020 –

योजना   यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना
 शुरू की   मुख्यमंत्री योगी जी ने
 लॉन्च की तिथि  21 मार्च 2020
 लाभार्थी   राज्य के गरीब नागरिक 
 उद्देश्य   भरण पोषण सहायता
 पहले चर में लाभार्थी   35 लाख 
 दुसरी चरण लाभार्थी   23.70 लाख
 आवेदन प्रक्रिया   ऑफ़लान /ऑनलाइन

उत्तर प्रदेश मजदूर भरण पोषण सहायता भत्ता योजना 2020

UP Shramik Bharan Poshan Yojana 2021 – मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने श्रमिक भरण पोषण योजना 21 मार्च 2020 को शुरू की थी। जिसके अंतर्गत यूपी के मूल निवासी मजदूरों को राज्य सरकार द्वारा 1,000 रुपए की आर्थिक सहायता भत्ता देने की योजना बनायी गयी थी। और साथ में बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूँ व 15 किलो चावल देने का प्रावधान भी रखा गया था। यूपी भरण पोषण योजना के लिए प्रथम चरण में 35 लाख लोगों को चिन्हित किया गया था, और इस योजना से लाभ दिया गया था।

लॉकडाउन की समय सीमा 25 मार्च 2020 से शुरू हुई जो 14 अप्रैल 2020 तक थी। लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण का और अधिक बढ़ने की वजह से लॉकडाउन की समय सीमा को बढ़ाकर अब 3 मई कर दिया गया है। इस लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने 17 अप्रैल 2020 को निर्णय लिया की ग्रामीण तथा शहरीय गरीब मजदूर (श्रमिक) जो पहले UP bharan poshan yojana 2021 की लिस्ट से छूट गये थे। उन सभी को 1,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाए।

यूपी भरण पोषण योजना की धनराशि

Funds of UP Maintenance Scheme – कोरोना वायरस का संक्रमण दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है। जिससे लोगों की जीवन शैली पर बहुत प्रभाव पड़ा है। केंद्र सरकार द्वारा पुरे देश में 25 मार्च से 3 मई (40 दिन) तक लॉकडाउन किया गया है। जिसकी वजह से सभी लोगों के रोजगार बंद हो गये हैं। इस वजह से गरीब लोगों की आय का साधन भी समाप्त हो गया है। इस के लिए यूपी सरकार द्वारा राज्य के नागरिकों को जो निर्माण क्षेत्र के श्रमिक, दिहाड़ी मजदूर और निराश्रित लोग हैं। उन्हें एक – एक हजार रुपए तथा बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूँ व 15 किलो चावल देने की भरण पोषण सहायता योजना बनाई गयी।

UP Shramik Bharan Poshan Yojana के अंतर्गत पहले चरण में मनरेगा मजदूर, जॉब कार्ड धारक मजदूर, श्रम विभाग में पंजीकरण वाले मजदूर, बीपीएल कार्ड धारक और सामाजिक पेंशन धारकों को लिया गया था। जिसमें कि 35 लाख लोग लाभार्थी हुये थे। इस योजना के लिए पहले चरण में 450 करोड़ की धन राशि स्वीकृत की गयी थी। यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना के दूसरे चरण में जो बाकि छूटे हुए 23.70 लाख नागरिकों को 236.98 करोड़ रुपए का दूसरा UP Shramik Bharan Poshan Yojana पैकेच शुरू किया है।

योगी भरण पोषण मजदूर योजना के लाभ

Benefits of Yogi Bharan Poshn Yojana

  • यूपी भरण पोषण मजदूर योजना का लाभ राज्य के नागरिकों को दिया जायेगा।
  • मजदूर भरण पोषण योजना अंतर्गत उन सभी नागरिकों को गरीब हैं।
  • UP Shramik Bharan Poshan Yojana के अंतर्गत राज्य के लाभार्थी लोगों को 1,000 रुपए की भरण पोषण सहायता दी जाएगी।
  • मजदूरभत्ता योजना के अंतर्गत पहले चरम में 35 लाख लाभार्थियों को राज्य सरकार द्वारा आर्थिक वित्तीय सहायता दी गयी।
  • सरकार ने दूसरे चरण के लिए 23.70 लाख लाभार्थियों का चयन किया है।
  • यूपी भरण पोषण श्रमिक योजना के अंतर्गत लाभार्थियों के बैंक खाते में सरकार सीधा पैसा डालेगी।
  • योगी सरकार ने इस योजना के तहत BPL परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल देना का भी प्रावधान रखा है।
  • इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है।

यूपी भरण पोषण श्रमिक सहायता भत्ता योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन 2021

Online Application for UP Maintenance Labor Assistance Allowance Scheme 2021 – यूपी मजदूर भरण पोषण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया निम्न प्रकार से है-

  • यूपी मजदूर भरण पोषण योजना के लिए आपको Labour Department की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • लेबर डिपार्टमेंट की आधिकारिक वेबसाइट के लिए  =>> यहाँ क्लिक करें 

  • अब आपके सामने इसका होम पेज खुल जायेगा। यहां आपको “Online Registration and Renewal” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुलेगा। फिर आपको LOGIN विकल्प के नीचे “Registration Now” पर क्लिक करना होगा।

  • फिर आपको अगले पेज में “New Registration” पर क्लिक करना होगा। क्लिक करते ही आपको “Nivesh Mitra Portal” पर पर भेज दिया जाएगा।
  • आपको यहां “Register here” पर क्लिक कर, रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम , मोबाइल ,आधार

  • नंबर आदि भरनी होगी। और अंत में “Register” पर क्लिक कर अपना पंजीकरण पूरा करना होगा।

UP-SHRAMIK-BHARAN-NUTRITION-SCHEME-APPLICATION-FORM-PDF

दोस्तों हमने आपको अपने इस लेख में मजदूर भत्ता योजना फॉर्म ,
Majdur Bhatta Yojana online apply की जानकारी दी है। यदि आपके मन में अभी भी कोई प्रश्न यह सवाल है, तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर अवश्य देंगे। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी तो अपने और मित्रों के साथ हमारे लेख को शेयर अवश्य करें। उत्तर प्रदेश राज्य की अधिक योजनाओ की पाने के लिए यहाँ क्लिक करें । धन्यवाद 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top