UP Kishori Balika Yojana 2021 | यूपी किशोरी बालिका योजना

[Apply Online] UP Kishori Balika Yojana 2021 | Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath Scheme for Girl Child | किशोर बालिका सशक्तिकरण योजना उत्तर प्रदेश | UP Kishori Balika Yojana 

UP Kishori Balika Yojana 2021: नमस्कार दोस्तों, आज हमअपनी इस पोस्ट में आपको उत्तर प्रदेश बालिका योजना के बारे में जानकारी देंगे। 21 फरवरी 2019 को उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा राज्य की सभी बालिकाओ के हितो को ध्यान में रखते हुए एक नई सरकारी योजना को शुरू करने का अधिकारिक एलान किया है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई इस लाभकारी योजना का नाम किशोरी बालिका योजना है।

UP kishori balika yojana 2021 in hindi
UP kishori balika yojana 2021 in hindi

राज्य सरकार का उधेश्य है की राज्य की हर वर्ग की लड़की को शिक्षा मिल सके तथा राज्य में शिक्षा को बढ़ाया जा सके। राज्य की किशोरी बालिकाओं को मद्देनजर रखते हुए एक लाभदायक योजना का एलान किया है | इस योजना का नाम है “UP Kishori Balika Yojana 2021” इसका लाभ प्रदेश में रह रही किशोरियों को मिलेगा। आइये जानते हैं UP Kishori Balika Yojna 2021 से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी की ये उप्र किशोरी बालिका योजना क्या है? सरकार इसके अंतर्गत कैसे सेवाएं प्रदान करेगी आदि।

उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना 

 UP Kishori Balika Yojana 2021- के तहत ही महिलाओं के सम्मान में उत्तर प्रदेश स्थित आंगनबाड़ियों में हर माह की 8 तारीख को किशोरी दिवस के रूप में मनाया जायेगा। यू पी किशोरी बालिका योजना से अभिप्राय सरकार द्वारा दी जाने वाली किशोरी बालिकाओं जिन की उम्र 11 वर्ष से 14 वर्ष है। उन्हें विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान करके उन्हें समाज में शिक्षा के लिए प्रेरित करना है। साथ ही उन्हें स्वास्थ्य से जुड़े जरूरी आहार को मोहिया करवाना है।

यूपी किशोरी बालिका योजना की शुरुआत योगी सरकार द्वारा वर्ष 2019 से ही की गयी ।इसके तहत राज्य में रहे रही बेटियों के पोषण आहार के लिए अभियान चलाया जायेगा। जिस से हर किशोरी को उसके भोजन में जरूरी तत्व प्राप्त हों और राज्य की हर लड़की कुपोषण मुक्त जीवन व्यतीत करने में सक्षम हो सके।साथ ही उत्तर प्रदेश की आंगनबाड़ियों में 08 मार्च 2019 को पहला किशोरी दिवस मनाया गया ।

कुपोषण समस्याओं को दूर करने के लिए जरूरी आहार –

Diet to Remove Malnutrition Problems: उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना के अंतर्गत कुपोषण को दूर करने लिए यूपी सरकार की योजना दो घटको पर कार्य करने की है। जो निम्न है।

  • पोषण घटक – के अंतर्गत बालिकाओ को उनके स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी आहार दिया जायेगा। जिसमें खाने की लिए शुद्ध बाजरा, अरहर की दाल, इसके साथ ही शुद्ध देसी घी, दूध इत्यादि सरकार द्वारा हर महीने के 25 दिन तक प्रदान किया जायेगा।भोजन सामग्री के साथ साथ ही कुछ जिलों में विटामिन युक्त गोलियों को भी दी जायेगी।
  •  गैर पोषण घटक – इसके तहत राज्य की आंगबाड़ियों में बालिकाओ का हेल्थ कार्ड भी बनाया जायेगा। बता दें की राज्य में किशोरी बालिकाओं के जिन की उम्र 11 से 14 वर्ष की है। इस वर्ष की बालिकाओं के आकंड़ों के अनुसार राज्य की तकरीबन पांच लाख से अधिक लडकियां लाभवन्ति हो सकेगी।

उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना के लिए पात्रता 

Eligibility for UP Kishori Balika Yojana: उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा तीन आधार पर पात्रता रखी है। जो निम्नलिखित है।

  1. उम्र: सरकार ने इस के अंतर्गत एक उम्र सीमा तय की है। जिस के तहत केवल और केवल 11 वर्ष से 14 वर्ष की लड़कियों को ही “उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना” के अंतर्गत शामिल किया जायेगा। अन्य किसी उम्र की लड़की अगर इसके लिए आवेदन करती है। तो उसका आवदेन स्वीकार नहीं किया जायेगा।
  2. राज्य निवासी: चूँकि यूपी किशोरी बालिका योजना 2021 की शुरुआत उत्तर प्रदेश के जिलों में की गयी है। इसी लिए केवल वो लड़कियां इस योजना का लाभ उठा सकती हैं। जो पूर्ण रूप से यूपी की रहने वाली है।
  3. स्कूली शिक्षा: इस से जुडी एक अन्य मुख्य पात्रता के अनुसार केवल जो लड़कियां स्कूली शिक्षा ले रही हैं। केवल उन्ही को uttar pradesh Kishori Balika Yojna के अंतर्गत मिलने वाले लाभ मिलेंगे। इस के साथ ही यह भी जरूरी है की वह लड़की राज्य स्थित किसी स्कूल में शिक्षा प्राप्त कर रही हो।

उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना जरुरी दस्तावेजों की सूची –

Required Documents for UP Kishori Balika Yojana : – हालांकि अभी तक इस बात की भी पूर्ण रूप से किसी जानकारी का सरकार द्वारा कोई एलान नहीं किया गया है कि किस किस दस्तावेजों को up किशोरी बालिका योजना के अंतर्गत जमा करवाना होगा। लेकिन एक सटीक अनुभव के कारण हम आप को बता सकते हैं। इन निम्नलिखित दस्तावेजों को जमा करवाना आवश्यक होगा।

  • उम्र प्रमाण पत्र – आवेदन करने के दौरान बालिकाओं को अपने उम्र का प्रमाण देना होगा। क्योंकि “उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना” में एक उम्र सीमा तय की गयी है। ।
  • पहचान पत्र – पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड की कॉपी, राशन कार्ड आदि को जमा करवाया जा सकता है। जिस पर आवदेन कर्ता का नाम, उम्र, आदि की सही जानकरी दी गयी हो।
  • जन्म प्रमाण पत्र – इस के साथ ही आवदेनकर्ताओं को जन्म प्रमाण पत्र भी जमा करवाना अनिवार्य हो सकता ही क्योंकी केवल इस योजना के अंतर्गत यूपी की किशोर लड़कियों को ही शामिल किया जायेगा। इन्ही कागजी सबूतों के साथ साथ ही अन्य किसी दस्तावेज की भी सरकार मांग कर सकती है।

यूपी किशोरी बालिका योजना आवदेन प्रक्रिया 

UP Kishori Balika Yojana Application Process:

किशोरी बालिका योजना को शुरू करने का योगी जी ने हाल ही में एलान किया है। जिस कारण इसे सही रूप से संचालन के लिए सरकार द्वारा ऐसी कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई की यूपी किशोरी बालिका योजना 2021 के लिए चयनित लड़कियां कैसे अप्लाई कर सकती हैं। लेकिन आप को बता दें की सरकार के अधिकारी जल्द ही एक आधिकारिक वेबसाइट को जारी करेंगे। जिसके माध्यम से आप लोग ऑनलाइन ही आवेदन प्रक्रिया को पूर्ण सकोगे।  इसके साथ ही अभी तक इस बात की भी पुष्टि नहीं की गयी है की इस के लिए ऑफलाइन कैसे आवेदन किया जा सकता है। व कौन से दफ्तर में आवेदन के लिए जाना होगा।

दोस्तों, हम आशा करते है की आपको हमारे आर्टिक्ल उत्तर प्रदेश किशोरी बालिका योजना 2021 से जुडी सभी जानकारियां प्राप्त हो गई होंगी। यदि आप इससे जुडी कोई भी अन्य जानकारी या प्रश्न पूछना चाहते है, तो हमे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में जाकर पूछ सकते हैं। हम आपको जल्द ही जवाब देंगे । और योजनाओ की अपडेट के लिए आप हमारे पेज www.hindiyojanaup.com से जुड़े रहें। धन्यवाद –

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top